मान सम्मान देंगे हनुमान

0
248
मान सम्मान देंगे हनुमान
मान सम्मान देंगे हनुमान

मान सम्मान देंगे हनुमान

महाबली हनुमान जी को सर्वशक्तिमान देवता के रूप में पूजा जाता है।भगवान श्री हनुमान ने भगवान श्री राम के चरणों में अपने जीवन को समर्पित कर दिया।हनुमान जी अमर और चिरजीवी हैं।असंभव कार्यों को भी चुटकियों में पूर्ण करने में क्षमता होने से ही वे संकटमोचन कहलाए।शुद्ध चित्त होकर इनकी भक्ति करने से सामथ्ये व शक्ति प्राप्त होती है। इनकी पूजा-अर्चना करने से सोया हुआ भाग्य उदय हो जाता है।वह भगवान शिव के 11वे अवतार माने जाते हैं,जो वानर देव के रूप में इस धरती पर श्री राम भक्ति और राम कार्य सिद्ध करने के लिए अवतरित हुए। हनुमान जी बाल ब्रह्मचारी हैं इसलिए इन्हें जनेऊ भी पहनाई जाती है।हनुमान जी की मूर्तियों पर सिंदूर और चांदी का वर्क चढ़ाया जाता है।मनोकामना पूर्ति और हर तरह के मंगल के लिए इन्हें इमरती का भोग लगाना भी शुभ होता है। बजरंगबली चमत्कारिक सफलता देने वाले देवता माने गए हैं।उनके लिए टोटके विशेष रूप से धन प्राप्ति के लिए किए जाते हैं, साथ ही यह उपाय हर प्रकार के अनिष्ट भी दूर करते हैं:

कच्ची घानी के तेल के दीपक में लौंग डालकर हनुमान जी की आरती करें।संकट दूर होगा और धन की प्राप्ति होगी।

अगर धन लाभ की स्थितिया बन रही हो किंतु लाभ नहीं मिल रहा हो तो गोपी चंदन की नो डलिया लेकर केले के वृक्ष पर टांग देनी चाहिए।याद रखे चंदन पीले धागे से ही बधना चाहिए।

एक नारियल पर  कामिया सिंदूर, मोली अक्षित अर्पित कर पूजन करें।फिर हनुमान जी के मंदिर में चढ़ा आए।धन लाभ होगा।

पीपल के वृक्ष की जड़ में तेल का दीपक जला दें।फिर आप घर आ जाएं एवं मुड़कर ना देखें धन लाभ होगा

किस काम के लिए क्या चढ़ाएं हनुमान जी को?

हनुमान जी की उपासना में चोला चढ़ाने से शुभ ऊर्जा शक्ति मिलती है।जिनके कष्टों का अंत नहीं हो रहा हे। बजरंगबली को तेल सिंदूर का चोला अवश्य चढ़ाएं

दरिद्रता दूर करने के लिए प्रति मंगलवार चना चिरौंजी चढ़ाएं।

सौभाग्य, पुत्र कामना के लिए सिंदूर एवं चमेली का तेल चढ़ाएं

कष्ट दूर करने के लिए गुड़ और मूंग चढाये।

सुखो की वृद्धि के लिए हनुमान जी को ओम हनुमते नम: की माला जपे।

पराक्रम वृद्धि के लिए हनुमान जी की गदा में सिंदूर  व गाय का घी लगाएं।

अपने परिवार की उन्नति के लिए चमेली के पुष्प चढ़ाएं।

संपत्ति के लिए गुड़, चना चढ़ाएं और घी का दीपक जलाएं।

कष्टों के निवारण के लिए हनुमान जी को सिंदूर नारियल और लड्डू अर्पण करें।

जमीन जायदाद के कार्यों की सफलता के लिए हनुमान चालीसा के 11 पाठ प्रतिदिन करें।लड्डू नारियल का भोग लगाएं।

सुख में वृद्धि व कोर्ट कचहरी के मामलों से निपटने के लिए तेल का दान करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here