बच्चों को मैदान में गेम्स कसरत के लिए भेजें पेरेंट्स

0
250
बच्चों को मैदान में गेम्स कसरत के लिए भेजें पेरेंट्स
बच्चों को मैदान में गेम्स कसरत के लिए भेजें पेरेंट्स

बच्चों को मैदान में गेम्स कसरत के लिए भेजें पेरेंट्स

खेलने और कसरत के लिए भेजें।स्टूडेंटस के दिमागी और आज के समय में बच्चों को ज्यादा से ज्यादा स्पोर्ट्स एक्टिविटी में शामिल होना चाहिए।उसके लिए पेरेंट्स को पहल करनी चाहिए।यह कहना है डिस्ट्रिक्ट बैडमिंटन कोच हरजिंदर सिंह का हरजिंदर सिंह हंसराज स्टेडियम के बैडमिंटन हॉल में खिलाड़ियों को कोचिंग देते हैं।उन्होंने चिंता जाहिर की कि आज बच्चे पढ़ाई में तो अव्वल आ रहे हैं, लेकिन फिजिकल फिटनेस जीरो है। इसके लिए पेरेंट्स को चाहिए कि वह बच्चों को मैदान में शारीरिक विकास के लिए गेम्स बेहद जरूरी है।आज बच्चे घर में ही वीडियो गेम, स्मार्ट फोन पर ज्यादा समय बिता रहे हैं जिससे उनकी सेहत पर असर पड़ रहा है।बच्चों में मोटापा बढ़ रहा है।अगर बच्चे मैदान में आएंगे तो जंक फूड की बजाय घर का बना खाना खाएंगे जिससे हेल्थ भी ठीक रहेगी और बच्चों की सेहत भी।

कोच ने कहा कि आज जरुरत है पेरेंट्स को कि मैं खुद पहल करें और बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ गेम्स में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करे।गौर है कि हंस राज स्टेडियम के बेडमिन्टन हॉल के खिलाडियो ने नेशनल व अंतराष्ट्रीय स्तर पर जालन्धर का नाम रोशन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here