पंजाब में बनाई जा रही है बिजली पराली से

0
200
In Punjab, electricity is being made from Parli
In Punjab, electricity is being made from Parli

दिल्ली को इस साल की सर्दियों को सुबह के समय धुए के बादल जैसी समस्याओं के साथ शायद ही जेलना पड़े क्योंकि पड़ोसी राज्य पंजाब में  धान की पराली को जलाना बंद कर दिया है और वह बायोमास मशीनों की मदद के द्वारा पराली से बिजली पैदा करने के लिए उपयोग में ला रहे हैं वातावरण प्रदूषण कंट्रोल अथॉरिटी के चेयरमैन भूरेलाल ने इस खबर एजेंसी को बताया के पराली खेतों के लिए खाद बनाने के लिए उपयोग में भी लाई जा सकती है।पिछले साल हरियाणा और पंजाब में किसानों की ओर से पराली जलाने के कारण दिल्ली पर और उसके आसपास के इलाकों में लगभग 20 दिन धुए के बादल छाए रहे थे, जिसके कारण आम जनजीवन प्रभावित हो गया था।चेयरमैन भूरेलाल  ने बताया कि राज्य में  62.5 मेगा वाट बिजली पैदा करने के लिए 6 बायोमास मशीनों की उपयोग की जा रही है और पराली से 600 मेगा वाट बिजली पैदा करने के लिए मशीनों की गिनती बढ़ाए जा रही है, उन्होंने दावा किया के सरकारी वर्ग कंपनी नेशनल थर्मल कारपोरेशन और कुछ निजी क्षेत्र की कंपनियों ने इस प्रोजेक्ट में रुचि दिखाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here