क्या है ब्लड प्रेशर

0
217
क्या है ब्लड प्रेशर
क्या है ब्लड प्रेशर

क्या है ब्लड प्रेशर

ब्लड प्रेशर का बढ़ना जा कम होना घर घर की कहानी है।बेशक कोई छोटा,या बड़ा या कोई बुजुर्ग हो सभी इस परेशानी का सामना कर रहे है।सबसे हैरानी वाली बात तो यह है कि 90% मरीजों को यह पता नहीं चलता कि यह बीमारी है।35 साल की उम्र के बाद इसकी जांच पड़ताल जरूरी है।दरअसल यह बीमारी बड़े लोगों की है पर कुछ जनमावास्था में गड़बड़ियां होने के कारण बच्चे भी इस रोग में आ सकते हैं इसके विपरीत कम ब्लड प्रेशर सेहत के लिए वरदान है।वह मरीज अपने आप को खुशनसीब समझते हैं जिनके खून का दबाव ऊपर का 100 और नीचे का 80 होता है।यह मरीज अपने आप को शांत रहते है और समाज को खुशियां बाँटते है।गुस्सा और चिड़चिड़ापन ब्लड प्रेशर बढ़ने का प्रतीक है।यह बात भी पक्की है कि कम हुए ब्लड प्रेशर वाले मरीज को डॉक्टरों के ज्यादा चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ती पर अनरजिस्टर्ड डॉक्टरों द्वारा कम हुए ब्लड प्रेशर को गोलियों, टीको और ग्लूकोस की बोतलों से पूरा करना भी बुरा रुझान है।  बढ़ता हुआ ब्लड प्रेशर खाने-पीने पर कई पाबंदियां लगा देता है।जैसे कि नमक, अचार, पापड़, स्नैक्स, शराब, सिगरेट, तली हुई चीजें और भोजन और नशे से बचने का संकेत देता है।अगर हम इन को इग्नोर नहीं करते तो दिल का दौरा, अदरग और गुर्दे फेल होने का डर बना रहता है।इसका इलाज बहुत महंगा नहीं है एक आसान सी जांच और 40 पैसे की एक गोली से आप लंबा जीवन व्यतीत कर सकते हो।कई मरीज गलती करते हैं और बीमारी कंट्रोल में होने तक दवाई छोड़ देते हैं।

कारण

गुर्दों की बीमारियां।खानपान में गड़बड़ी।यह रोग पीढ़ी-दर-पीढ़ी चलते हैं।तली हुई चीजें ब्लड प्रेशर रोग को बढ़ाते है।खून में चर्बी का बढ़ना और खून का गाढ़ा होना।ज्यादा नमक के प्रयोग से पसीना ना आना ब्लड प्रेशर बढ़ाता है।नशे का उपयोग जेसे विटामिन डी की कमी से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है।नींद में सांस रुकना।

लक्षण

थकावट महसूस होना।सिर भारी और घबराहट महसूस होना।गुस्सा आना, सांस फूलना, नींद पूरी ना होनी।दिल की धड़कन का बढ़ना।नाक की नकसीर का फटना।छाती में दर्द।पेशाब में खून आना।आंखों में गड़बड़ी होनी।मुंह लाल होना।

इलाज

अगर हम अपने खाने-पीने की चीजों में तब्दीली कर सकते है तो इस पर काबू पा सकते है।मोटापा घटाना,सिगरेट,बीडी का सेवन ना करे तो इससे छुटकारा मिल सकता है।रोजाना कसरत, मेडिटेशन और सुबह की सैर लाभदय है।अपने भोजन में दही, हरी सब्जियां, मौसमी फल, टमाटर, प्याज आदि लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here